बीएससी ऑप्टोमेट्री कोर्स क्या है? आँख के डॉक्टर कैसे बने- Eligibility, admission, fees, jobs

optometry course kya hai
Spread the love

दोस्तों आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आप लोगों को ऑप्टोमेट्री कोर्स के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

यहाँ हम आप लोगो को optometrist कैसे बन सकते हैं? क्या-क्या कोर्सेज अवेलेबल है?, क्या qualification चाहिए ? इसमें आप अपना कैरियर कैसे बना सकते हैं?, इसकी सैलरी कितनी होती है?एडमिशन प्रोसेस क्या है? ट्यूशन की फीस कितनी होती है? और कुछ टॉप कॉलेजेस इस कोर्स के लिए हम आप लोगों को इस आर्टिकल में बताएंगे।

ऑप्टोमेट्री कोर्स क्या है ?What is Optometry Course in Hindi ?

दोस्तों बहुत सारे पैरामेडिकल कोर्सेज है, जिसे आप under gradguate level में कर सकते हो, जिसमे आज हम आप लोगों को बताएंगे Optometry Courses के बारे में।

Optometry क्या है ? इस प्रोग्राम में अगर अल्ट्रावॉयलेट रेडिएशन या पॉल्यूशन के करण eyes पर कोई effect होता है, या आँखों में कोई परेशानी होती है ,तो optometrist इसका इलाज करते हैं, जैसे कि बैक्टीरियल इनफेक्शन,  eyes  में allergy हो जाती है या eyes  में इंफेक्शन हो जाते है, इन सब  कंडीशन में आँखे कैसे रिएक्ट करते हैं, इसके बारे में इस कोर्स में स्टडी करते हैं।
ऑप्टोमॅट्रिक कोर्स में Basicly आंखों से रिलेटेड कोई भी परेशानिया या उनके इलाज के बारे में बताया जाता है। Optometry course में हम इसी के बारे में पढ़ते है। 
Optometry course details
Optometry course details

एक optometrist  लोगों की आंखों के विकारों को दूर करता है ,जिसमें वह कई प्रकार के vision  थेरेपी का use  भी करता है। साथ ही ऑप्टोमॅटिस्ट का काम यह भी रहता है ,कि वह मरीज को यह सलाह दे, कि वह अपने आंखों की सही देखभाल कैसे करें?

किसे करना चाहिए ये कोर्स | Who should join this course 

दोस्तों बैचलर आफ ऑप्टोमेट्री उन लोगों के लिए बेस्ट है ,जो मेडिकल फ़ील्ड में अपना career बनाना चाहते है, लेकिन उनके लिए MBBS या BDS कोर्स करना पॉसिबल नहीं है।

साथ में जो छात्र काम खर्च में और काम समय में मेडिकल से रिलेटेड कोर्स करना चाहते है, जिसमें अच्छे फ़्यूचर के साथ साथ अच्छी कमाई भी हो, तो उन छात्रों को भी यह कोर्स करनी चाहिए।

ऑप्टोमेट्री कोर्स उन लोगों को करना चाहिए। जिन्हे आंखों से रिलेटेड बीमारियों और उन्हें के इलाज में उन्हें दिलचस्पी होती है। 

ऑप्टोमेरिक कोर्स करने के प्रकार | Type of optomeric course 

अब जानते हैं कि कौन-कौन से कोर्स होते हैं? इसके लिए आप  BSc in Optometry, B.Optom  कर सकते है।ऑप्टोमॅट्रिक सारे काम कर सकता है,लेकिन सर्जरी को छोड़कर,  एक ऑप्टोमेट्रिस्ट को सर्जरी के लिए माने नहीं माना जाता है।

इसके  अलावा  Diploma In Optometry कोर्स भी होता है। अगर आप चाहे तो डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं, यह कम ड्यूरेशन का होता है।
ऑप्टोमॅट्रिक कोर्स में आँखों से सम्बंधित विषयो के बारे में पढ़ाया जाता है। 

जैसे कि ऑप्टोमॅट्रिक इंस्ट्रूमेंट्स के बारे में , फिजियोलॉजी, जनरल एनाटॉमी, दृष्टि दोष इन सब चीजों के बारे में आपको पढ़ाया जाता है।

कोर्स की अवधि | Course Duration 

अब हम बात करते हैं इस कोर्स के Duration  के बारे में , तो Bsc optometry कोर्स  4 साल का होता है। जिसमें से 3 साल आपको theoretical knowledge या  डिग्री या क्लास कराया जाता है।उसके बाद आपको 1 साल का compulsory internship भी कराया जाता है। 

Key Highlights of B Optometry

  • Duration: 4 years
  • Eligibility: 10+2 in PCMB with a minimum of 50% aggregate.
  • Admission Process: Based on merit and entrance exam
  • Entrance Exams: AIIMS Entrance Exam, NEET, CMC Entrance Exam, etc
  • Top Colleges: AIIMS, CMC, Sastra University, Galgotias University
  • Average Annual Fees: INR 1,000 – INR 2,00,000 
  • Distance Education: Not available
  • Job Options: Optometrist, Low Vision Specialist, Orthoptist, Optician.
  • Average Salary Package: INR 4,00,000
  • Area of Employment: Hospitals, Eye Clinics, Optical Centres, etc.
  • Higher Study Options: Master of Optometry and Masters in Science in Optometry
Optometry course highlights in Hindi
Optometry course highlights in Hindi

Eligibility for Bsc Optometry | पात्रता 

इसके एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया की बात करें तो इसमें कम से कम आपको 12 th  पास होना जरूरी है।
PCB स्टूडेंट भी इस कोर्स को कर सकते हैं, लेकिन PCM स्टूडेंट भी
कुछ यूनिवर्सिटी ऐसे  है जो पीसीएम स्टूडेंट्स को यह कोर्स करवाते हैं और अगर आपने PCM  या PCBZ कोई भी stream  से 12th पास किया है तो आप इस कोर्स को कर सकते है।
इसके लिए आपका 12th में कम से कम 50% होना चाहिए। रिजर्व कैंडिडेट के लिए 5 % का छूट  दिया जाता है। तो कुल मिला कर आपका कम से कम 45 -50 % होना चाहिए। और आपके Age  की बात करें तो कम से कम आपकी age 17 साल की होनी चाहिए। किसी किसी collage में ये demand होती है। 

फीस | Tuition Fees 

अब हम बात करते हैं इस कोर्स की फीस के बारे में ,इस कोर्स में आपका कम से कम 10000 – 200000  सालाना  का खर्चा लगता है, जिसमें आप का 4 साल का मिला कर 2 -4  लाख तक का कुल फीस लगता है।
गवर्नमेंट कॉलेज या आपका प्राइवेट कॉलेज जो भी है, उसके हिसाब से भी आपका fees vary  करता है। 
जैसा कि इसमें मैंने आप लोगों को बताया कि इसमें दो तरह के कोर्स होते हैं। बीएससी ऑप्टोमेट्री और डिप्लोमा आफ ऑप्टोमेट्री , डिप्लोमा आफ ऑप्टोमेट्री मे थोड़ा कम fees  में हो जाता है।
बैचलर ऑफ ऑप्टोमेट्री में आपका थोड़ा ज्यादा खर्चा आता है ,तो दोनों कोर्स में आप दो से चार लाख के खर्चे में आप ऑप्टोमेट्री कोर्स कर सकते है।

प्रवेश प्रक्रिया | Admission procedure for Optometry course in Hindi 

अब हम बात करते हैं इस कोर्स के एडमिशन प्रोसेस की।अगर आप यहां ऑप्टोमेट्रि कोर्स करना चाहते हैं, तो आपको एक एंट्रेंस एग्जाम देना होगा।कुछ कॉलेज या यूनिवर्सिटी ऐसे भी होते हैं जहां आप के 12th  के मार्क्स के हिसाब से डायरेक्ट एडमिशन ले लेते है।

ऐसे कुछ ही कॉलेजेस होते हैं।हाँ, मगर maximum कॉलेजेस ऐसे होते हैं जो अपना खुद का एंट्रेंस एग्जाम कंडक्ट करवाते हैं।

जैसे कि AIMS एंट्रेंस एग्जाम होता है, AMU  एंट्रेंस एग्जाम होता है।ऐसे  कुछ कॉलेजेस होते हैं जिनमें एंट्रेंस एग्जाम आपको देना होता है, एडमिशन कराने के लिए।

कुछ Top collages optometry course के लिए 

यहां हम आपको कुछ टॉप कॉलेजेस ऑप्टोमेट्री कोर्स करने के लिए लिस्ट दिए हुए हैं, जिसमें आप एडमिशन ले सकते है ;-
  • AIIMS- नई दिल्ली
  • Christian Medical College (CMC)– वेल्लोर 
  • JIPMER– पड्डुचेर्री 
  • SRIHER– चेन्नई 
  • JSS Medical College– मैसूर 
  • Jamia Hamdard– नई दिल्ली 
  • DY Patil Vidyapeeth– पुणे 
  • SRM Institute of Technology– चेन्नई 
  • Maharishi Markandeshwar– अम्बाला 
  • Saveetha Institute of Medical and Technical Sciences-चेन्नई

हायर एजुकेशन के मौके

अगर बैचलर आफ ऑप्टोमेट्री के बाद Higher education  करना चाहते हैं, तो आप MSc in Optometry, M.Optom कर सकते हैं।

इसके अलावा आप एमएससी इन ऑप्टोमेट्री कर सकते हो या अगर आपको हॉस्पिटल मैनेजमेंट से रिलेटेड कोई कोर्स करना है, तो आप MBA (PGDM ) कोर्स भी कर सकते हो।

सिलेबस या विषय | Syllabus or Subjects for Optometry course 

इसके लिए Syllabus या subjects  की बात करे, तो उसमें आपको आंखों से रिलेटेड बीमारियों को ठीक करने के बारे में पढ़ाया जाता है, जिसमें आपको एनाटॉमी ऑबस्टिकल इंस्ट्रूमेंट्स और आँखों से  रिलेटेड डिसीसिस के बारे में पढ़ाया जाता है।  जैसे;-

Semester -1 


 

  • Basic Sciences and Clinical Optometry
  • Community Optometry & Public Health
  • Advance Dispensing Optics
  • Elective – Advanced Glaucoma and Pediatric Optometry

Semester -2 


  • Orthoptics & Vision Therapy
  • Clinical Optometry-II
  • Neuro Optometry
  • Business and Clinical aspects in Optometry
Semester -3 

  • Cornea & Contact Lens 2) Low Vision & Rehabilitation
  • Recent Advancement in Optometry
  • Special Clinic –I
  • Project / Dissertation

Semester -4 


  • Special Clinic-II
  • Project Dissertation-II

 

इस कोर्स के बाद करियर ऑप्शन

बात करते हैं ऑप्टोमेट्री कोर्स करने के बाद इसके करियर के बारे में तो ,आप optometry course  करने के बाद एक optometrist  बन सकते हैं।

optometrist कोई फिजीशन या डॉक्टर नहीं होते हैं, ये  सिंपल एक मेडिकल और हेल्थ के profession  होते हैं जो vision को मेजर करते हैं और glasses  और lenses को prescribed  करते हैं।Vision  को इंप्रूव करने के लिए। 

 optometrist  कोई सर्जरी नहीं कर सकता। लेकिन ophthalmologist  या eyes spacilist  सर्जरी कर सकते हैं। सर्जरी करने के लिए आपको MBBS करना होगा।

इसके आलावा आप Vision spacilist बन सकते हो या Vision कंसल्टर बन सकते हो। यह आपके पास जॉब अपॉर्चुनिटी है। इसके अलावा आप अपना खुद का क्लीनिक खोल सकते हो।  

इसके अलावा आप अपना खुद का Opsticle shop खोल सकते हो या कोई शोरूम भी खोल सकते हो। अगर आपके पास optometrist की नॉलेज है और आप अपना कोई शोरूम खोलना चाहते हैं तो आप तो आप दूसरों को advice कर सकते हो कि किसके लिए कौन सा लेंस अच्छा है या कौन सा फ्रेम  या कौन सा ग्लासेज बैटर है? इसके आलावा आप  vision researcher बन सकते हो।  ऐसे बहुत सारे options आपको मिलते है।

जॉब के अवसर | Job oportunity after this course 

Optometry course  करने के बाद आप जॉब कैसे पाए तो, यहां आप लोगों को मैं बता दूं कि अगर आप Optometry course  करते हैं, तो आप प्राइवेट या गवर्नमेंट दोनों ही सेक्टर में आप जॉब ले सकते हैं। 

वेतन | Salary 

अब हम बात करते हैं कि ऑप्टोमॅट्रिक जॉब करने पर इसकी सैलरी कितनी हमें मिलती है, तो अगर आपका गॉवर्मेँट सेक्टर में जॉब करते हैं तो ,आपको 15000 – 35000  तक की सैलरी आपको मिलती है ,लेकिन प्राइवेट में आप को सैलरी कम मिलती है।

और अगर आपका खुद का shop  है, तो आपकी मेहनत और आपके एक्सपीरिएंस पर डिपेंड करता है, कि आप कितना income monthly  कर लेते है।  गॉवर्मेँट सेक्टर में अगर आप जॉब करते हैं, तो आपकी सैलरी आपके एक्सपीरियंस और ड्यूरेशन के हिसाब से बढ़ते जाते है।

 यहाँ आप 2 – 4 lack per year तक कमा सकते है। 

Top recruiters 

Top recruiters की बात करें तो ऐसे बहुत सारे हॉस्पिटल है, जहां पर optometrist की जरूरत होती है, जैसे कि,;- Indraprastha Apollo Hospital, Medanta Hospital, Jaypee hospital etc . यह सारे ऐसे हॉस्पिटल है ,जहां पर ऑप्टोमेट्रिस्ट की जरूरत होती है।

ऑप्टोमार्टिक कोर्स के फायदे | Benifits of optomatric course in Hindi 

बात करें बैचलर आफ ऑप्टोमेट्री कोर्स के फायदों के बारे में तो आप Bsc ऑप्टोमेट्री कोर्स करने के बाद आप अच्छी खासी earning कर सकते हैं। और इसका भविष्य में भी इसको बहुत ज्यादा scope  है। आप इसमें अपना खुद का क्लीनिक खोल सकते हैं और एक प्रोफेशनल ऑप्टोमेट्रिस्ट बन सकते हैं।

आजकल के डिजिटल जेनरेशन होने की वजह से भी लोगों की आंखों पर कंप्यूटर और मोबाइल के रेडिएशन से उनके आंखों पर काफी रिएक्शंस होते हैं, जिनका सॉल्यूशन आप कर सकते हैं और अच्छी खासी कमाई कर सकते है। 

निष्कर्ष 

तो दोस्तों आशा करती हूं कि आपको हमारा आज का यह Article पसंद आया होगा, जिसमें हमने आप लोगों को बैचलर आफ ऑप्टोमेट्री कोर्स के बारे में पूरी जानकारी दी है।

तो अगर आप अगर ऑप्टोमेट्री कोर्स करने के बारे में सोच रहे हैं, तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा साबित होगा। अगर आपको मेडिकल में जाना है। 

धन्यवाद।

Ajay Kumar

<strong>अजय कुमार</strong> एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर हैं, जो एक दशक से अधिक समय से शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। उनकी शिक्षा और टेक्नोलॉजी से संबंधित वेबसाइट और YouTube चैनल को लोगों ने काफी पसंद किया है। <strong>वह आसान भाषा में टेक्निकल टर्म को समझाने के लिए प्रसिद्ध हैं।</strong> यह लेख आपको कैसा लगा? अगर आपका कोई सुझाव या सवाल है, तो कृपया कमेंट करें । <em>सोशल मीडिया पर लेखक को फॉलो करें।</em>

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *